Ratna.me

screenshot_2016-11-01-12-59-22_1477985386327 0

koi toh udas hai

ग़ज़ल –   कोई तो उदास है…… Visit : -https://youtu.be/zeyRwA0hJJs

screenshot_2016-10-26-17-34-15_1477555461619 0

दर्द तेजाब का (dard tezab ka)

  कवित्री – रत्ना दर्द को पीकर बहने बेटी, जीने को संघर्ष करे। माफ़ करू कैसे मैं उसको, जो सबकी जीवन भंग करे।। क्यों बैठे हम देख रहें सब, समझे न क्यों उसका दर्द।...

screenshot_2016-10-18-18-26-15_1476795579645 0

Nasha ka lat naahi hota (नशा का लत नाहि होता)

Lyrics -Ratna              टूटल  है घरवा मोरा बिखरल संसार बा, हंथवा में कछु ना बचल परिवार बा, इ जे नशा है बाबू, कर दिया हमरा के बर्बाद बा ।।...

screenshot_2016-10-17-10-37-58_1476697800190 0

piya tum kahan the (पिया तुम कहाँ थे)

गीतकार: – रत्ना पिया तुम कहाँ थे जब मैंने पुकारा, थी खोई डगरिया न कोई सहारा । नज़र कुछ न आया गिरी लड़खराकर, लगा जैसे अब न मिलेगा किनारा।।          ...

screenshot_2016-10-26-18-00-24_1477508465712 0

ज़ज्बा है मेरे दिल में (jazba hai mere dil men)

कवित्री – रत्ना मेरे मन को तोड़ सके जो,नहीं है कोई ऐसी चीज । हो भरम में परे हुए तुम, मैं जिऊँगी जग को जीत।। ये घातक तेजाबी हमले, मुझको रोक न पाएँगे ।...

acid-attack-poem-in-hindi 0

Acid Attack Poem in Hindi (फेंक एसिड जलाकर मुझको)

Lyrics: Ratna फेंक एसिड जलाकर मुझको, जिए जाओ तुम शान से। नहीं सजा कोई देने वाला, इतराओ गुमान से।।   देश बना गुंडों का घर है, हर पल यहाँ कोई लुटती है। कभी एसिड...

Chala Daur Badalane Ka Ab1 0

Chala Daur Badalane Ka Ab (चला दौड़ बदलने का अब)

Poet: Ratna चला दौड़ बदलने का अब, रुख़ चाहत के बदल रहें हैं। जिधर भी देखो इंसानो को, अपनों से मुँह मोड़ रहें हैं।। दौलत ने इन्सां को बदला, खो गया आज है अपनापन।...