Tagged: Acid Attack Poem

screenshot_2016-10-26-18-00-24_1477508465712 0

ज़ज्बा है मेरे दिल में (jazba hai mere dil men)

कवित्री – रत्ना मेरे मन को तोड़ सके जो,नहीं है कोई ऐसी चीज । हो भरम में परे हुए तुम, मैं जिऊँगी जग को जीत।। ये घातक तेजाबी हमले, मुझको रोक न पाएँगे ।...

acid-attack-poem-in-hindi 0

Acid Attack Poem in Hindi (फेंक एसिड जलाकर मुझको)

Lyrics: Ratna फेंक एसिड जलाकर मुझको, जिए जाओ तुम शान से। नहीं सजा कोई देने वाला, इतराओ गुमान से।।   देश बना गुंडों का घर है, हर पल यहाँ कोई लुटती है। कभी एसिड...